btn_subscribeCC_LG.gif
राजेन्द्र माथुर
राजेन्द्र माथुर
7 अगस्त 1935 को बदनावर, जिला धार, मध्यप्रदेश में जन्म। अंग्रेजी साहित्य में स्नातकोत्तर। कॉलेज में अंग्रेजी साहित्य का अध्यापन छोड़कर 1970 में नईदुनिया में पहुंचे और यहीं प्रधान संपादक हुए। बाद में नवभारत टाइम्स के प्रधान सम्पादक हुए। उन्हें प्रेस आयोग का सदस्य भी मनोनीत किया गया। प्रकाशित पुस्तकें - गाँधी जी की जेल यात्रा, नब्ज पर हाथ, राजेन्द्र माथुर संचयन - दो खण्ड। 9 अप्रैल 1991 को आकस्मिक निधन।

एक पुरानी चट्टान
आज जब हम अंग्रेजी हटाने की बात करते हैं, तब सवाल अंग्रेजी का नहीं है। सवाल तीन हजार साल पुरानी आदत बदलने का है। यह चट्टान अंग्रेजों ने हमारे ऊपर नहीं रखी है। वह एक प्रागैतिहासिक चट्टान है, जो आजादी के ज्वालामुखी में तप रही है और लावा बनकर बहना चाह
स्वतंत्रता की जय
इस शीर्षक के फूहड़पन से और उसकी नारेबाजी से मैं परिचित हूं। शायद यह पेकिंग की दीवाली पर लगे पर्चों की तरह थोथा और चीखता हुआ है। मेरी पीढ़ी के किसी आदमी के दिल में इतना उल्लास नहीं है कि वह आसमान गुंजाने वाली आवाज में "स्वतंत्रता की जय" कह सके। कहना
QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 19.09.26 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^