btn_subscribeCC_LG.gif btn_buynowCC_LG.gif

पोर्टरिको में मेरी पहली यात्रा
01-Jun-2018 02:58 PM 3384     

दो हजार सत्रह की सर्दी में मुझे एक मिशन ट्रिप पर पोर्टरिको जाने का अवसर मिला। वहाँ कुछ महीने पहले समुद्री तूफ़ान ने तबाही मचायी थी। हम समुद्री तूफ़ान के बाद पोर्टरिको निवासियों की मदद करने गए। मुझे इस ट्रिप के बारे में एक दोस्त से मालूम हुआ और इस ट्रिप के लिए मैं बहुत उत्साहित था, क्योंकि मुझे पसंद है दूसरों की मदद करना। मेरे दूसरे साथी अमेरिका से थे और वह भी इस ट्रिप पर जा रहे थे। जब मैं पोर्टरिको के हवाई अड्डे पर पहुँचा तो वह आदमी जो इस मिशन ट्रिप का आयोजन कर रहा था और दूसरे लोग जो इस ट्रिप में हमारी मदद करेंगे मुझे लेने के लिए आए। जैसे ही हम पोर्टरिको हवाई अड्डे से बाहर निकले, मुझे लगा कि मैं अमेरिका में हूँ क्योंकि मैंने देखा कि पोर्टरिको शहर आम अमेरिकी शहरों जैसा ही है। इस शहर में बड़ी इमारतें, दुकानें, सुपर मार्केट और दूसरी इमारतें थीं जो अमेरिका जैसी लग रही थीं। मुश्किल था यह विश्वास करना कि यहाँ कुछ दिनों पहले एक समुद्री तूफ़ान वहाँ आया था।
जब हम लोग मुख्य शहर से बाहर आये तो देखा कि समुद्री तूफ़ान की वजह से हुई क्षति कितनी गम्भीर है। काफ़ी इमारतें थीं जहाँ बिजली नहीं थी और यातायात बंद था। मंदिर जहाँ हम रहने वाले थे उसके रास्ते में सड़कें कच्ची और घुमावदार थीं। मुझे मुश्किल लग रहा था कि सब कुछ कैसे ठीक होगा। और उसी क्षण मुझे ख्याल आया कि हम मंदिर तक भी पहुँच पाएँगे या नहीं। शहर से बाहर मैंने देखा कि मलबा हर जगह पड़ा हुआ है। अंत में हमारी वैन मंदिर में सुरक्षित पहुँच गई। वहाँ पहुँचकर हमने खाना खाया और हम सोये।
सुबह हम जल्दी उठे ध्यान करने के लिए और मंदिर में सेवा करने के लिए। बाद में हमने स्वादिष्ट खाना खाया और मंदिर की मदद करनी शुरू की। हमारा पहला काम मलबे को साफ़ करना था जो मंदिर के आसपास भरा पड़ा था। अनेक पेड़ और धातु की चादरें जो मंदिर के आसपास बिखरी हुई थीं उसे हमने साफ़ किया। हमने मलबे को उठाया और दूर ले जाकर फेंक दिया। बाद में हमको एक मौक़ा मिला मंदिर की असली ख़ूबसूरती देखने का। जब मंदिर की सफ़ाई हुई हमने देखा मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर में तुलसी के पौधे थे और सब चीज़ें मंदिर के पास बहुत सुंदर थीं। मंदिर के चारों तरफ़ अनेक पेड़ और पुष्प थे और मुझे ऐसा लग रहा था कि मैं एक जंगल में था। पुष्प और पेड़ एक बहुत सुखद सुगंध का माहौल बना रहे थे। मैं इस दृश्य को और इस भाव को अपने मन में हमेशा संजो कर रखना चाहता हूँ।
उस दिन के बाद हम पोर्टरिको के डाउन टाउन गए, दर्शनीय स्थानों की तबाही का ब्यौरा लेने के लिए। पोर्टरिको का डाउन टाउन अच्छा था। सड़कों को ईंटों से बनाया गया था और एक बड़ा क़िला शहर से घिरा था। हम घूमे और विभिन्न दुकानों में ख़रीदारी की। हम उपहारों के आदान-प्रदान करने की योजना बना रहे थे क्रिसमस के लिए और एक लड़की जो इस ट्रिप पर आयी थी उसने एक बैग और एक ओखली ख़रीदी। जबकि शहर में हम एक दोस्त के घर गए। यह घर अच्छा था क्योंकि एक खुली छत थी जहाँ हम बैठे और हमने खाना खाया।
पोर्टरिको का डाउन टाउन देखने के बाद हम मंदिर वापस आए और सोये। अगले दिन पिछले दिन के समान था। सुबह हमने ध्यान किया और मंदिर में सुबह सेवा की और नाश्ता खाया। इसके बाद मलबा साफ़ किया जो मंदिर से घिरा था, लेकिन इस दिन हम एक समुद्र तट पर गए मज़ा करने के लिए। समुद्र तट सुंदर था। पानी अच्छा गहरा नीला था और मौसम उत्तम था। हमने बहुत मज़ा किया, पानी में खेले और समुद्र तट पर घूमे।
कुछ दिनों के लिए हम द्वीप के पश्चिमी भाग पर एक खेत पर गए मदद करने के लिए। फिर हम दूसरे समुद्र तट पर गए। वहाँ पानी हल्का नीला था और यह बहुत सुंदर था। वहाँ भी ट्रेल थे जहाँ हम पर घूमे और ये बहुत सुंदर था। ट्रेल में एक चट्टान थी और चट्टान के किनारे खड़े होकर हम समुद्र देख सकते थे। पानी गहरा नीला था और बहुत सुंदर था।
समुद्र तट के बाद हम खेत में पहुँचे। खेत ख़ूबसूरत था क्योंकि इसमें बहुत सारे फल और पेड़ थे। मैंने ये फल और पेड़ पहले कभी नहीं देखे थे। हमने कुछ दिनों के लिए खेत में लोगों को मदद की। एक रात हमने बॉनफ़ायर किया और यह बहुत मज़ेदार था। हमने कहानियाँ सुनायीं और भुना हुआ आलू खाया। दूसरे दिन हमने एक मार्ग बनाया नदी के लिए। यह बहुत बड़ा काम था क्योंकि हमें पेड़ों और पौधों को साफ़ करना था और ज़मीन को धोना था। लेकिन अच्छा था क्योंकि इसके बाद हमने पानी में भी खेला।
खेत के बाद हम मंदिर वापस आए। एक शाम, हम एक डत्दृथ्द्वथ्र्त्दड्ढद्मड़ड्ढदद्य डठ्ठन्र् पर गए। वहाँ हम पानी में तैरे। जब हम तैरते हैं तो पानी में चमक उठती है। पानी में तैरने के बाद हमें एक जगह मिली जहाँ हमने खाना खाया। खाने के बाद हमने क्रिसमस उपहारों का आदान-प्रदान किया, जो हमने पहले ख़रीदा था क्योंकि उस दिन क्रिसमस था। मुझे टोफ़ियाँ और एक टी-शर्ट मिली। उसके बाद मैं कुछ और दिनों के लिए वहाँ रहा। हम सभी मंदिर की इमारतों पर सफ़ेदी कर रहे थे। पहले हमें इमारतों से सभी पुराने रंगों को उतारना था। इसके बाद हमने सभी इमारतों को पीले पैंट के साथ रंगा। हम इस ट्रिप से जल्दी वापस आए इसलिए हम सभी इमारतों को पैंट नहीं कर सकते थे। मैं चाहता था कि मैं यात्रा पर अधिक समय तक रहूँ। लेकिन यह नहीं हो सका। शायद अगली बार, मैं वहाँ ज़्यादा दिन तक रहूँ।

QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 19.09.26 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^