btn_subscribeCC_LG.gif
कैलिफ़ोर्निया में छज्जू का चौबारा
01-Jan-2016 12:00 AM 1536     

सारी दुनिया देखी हमने
देखा बल्ख़ बुख़ारे में
पर वह बात नहीं पाई
जो छज्जू के चौबारे में।
कैलिफ़ोर्निया के कूपरटीनो नगर में प्रतिष्ठित छज्जू का चौबारा इस उक्ति को सार्थक करता है। ये बुज़ुर्गों का चमन है, जहाँ सभी को मिलता है अपनापन। स्वदेश से दूर, विदेश की भूमि पर इसकी स्थापना वरिष्ठ भारतीय स्व. आर्यभूषण ने 1996 में की थी।
अमेरिका में विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत युवा पीढ़ी के अभिभावकों के एकाकीपन को दूर करने और कुछ सकारात्मक कार्यों में समय का सदुपयोग करने के लिये इसकी आवश्यकता को अनुभव करके संस्थापक ने इसको प्रारंभ किया था। यहाँ रचनात्मक लेखन की नींव पड़ी। आर्यभूषण की प्रेरणा और उत्साह प्रदान करने के द्वारा विगत वर्षों में निरन्तर विकसित होते हुए आज अपने विशाल रूप में कैलिफ़ोर्निया में बसे भारतीयों के कार्यकलापों का यह प्रसिद्ध केन्द्र है। अमेरिका के अन्य प्रान्तों में इस तरह का प्रतिष्ठान बनाने के लिये भारतीय प्रयत्नशील हैं। ये "इंडिया कम्युनिटी सेंटर' (पूर्व में इंडो-अमेरिकन कम्युनिटी सर्विस सेंटर : क्ष्क्च्क्) का ही एक भाग है, जिसका बीजारोपण मात्रा मजमूनदार ने 1988 में अपने घर पर किया था और आज वही वट-वृक्ष बनकर भारतीय परिवारों की मिलन-स्थली बना हुआ है।
चौबारे में हरेक बुधवार को प्रवासी भारतीय मिलते हैं और विचारों का आदान-प्रदान करते हैं। कुछ खट्टे-मीठे प्रसंग, मन की गहराइयों में छिपे राज़, मिलन-बिछुड़न के गीत, सुख-दु:ख भरे अफ़साने सदस्य लिखकर लाते और पढ़कर सुनाते हैं। संस्मरण, कहानी, विविध विषयों पर ललित निबन्ध, हास्य-व्यंग्य के लेख, कविताएँ तथा गीत-संगीत सुनने वालों को आनन्दित कर देते हैं। यहाँ हिन्दी के अतिरिक्त अंग्रेज़ी तथा अन्य भारतीय भाषाओं में पढ़ने की भी स्वतंत्रता है। प्रयुक्त भाषा से अपरिचितों के लिये रचना का सारांश प्रारंभ में ही हिन्दी अथवा अंग्रेज़ी में बता दिया जाता है

QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 19.09.26 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^