btn_subscribeCC_LG.gif
सुषम बेदी
सुषम बेदी
1 जुलाई 1945 को फीरोजपुर, पंजाब में जन्म। इंद्रप्रस्थ कॉलेज, दिल्ली से बी.ए., एम.ए., दिल्ली यूनिवर्सिटी से एम.फिल तथा पंजाब यूनिवर्सिटी से पीएच.डी. की उपाधि। हिन्दी की प्रख्यात साहित्यकार। प्रमुख कृतियाँ : उपन्यास : हवन, लौटना, नव भूम की रसकथा, गाथा अमरबेल की, कतरा दर कतरा, इतर, मैंने नाता तोड़ा तथा मोर्चे। कहानी संग्रह : चिड़िया और चील, सुषम बेदी की यादगार कहानियाँ तथा तीसरी आँख। शोधग्रंथ : हिंदी नाट्य प्रयोग के संदर्भ में, हिंदी भाषा का भूमंडलीकरण तथा आरोह-अवरोह। सम्प्रति - कोलंबिया विश्व विद्यालय, न्यूयार्क में हिंदी भाषा और साहित्य की प्रोफेसर हैं।

सितंबर की हवा मेरा समय
सितंबर की हवा सरसराती, फरफरातीअपने रेशमी परों में आसमान को समेटतीदेर बाद मिलने वाली सहेली की तरह मुझसे लिपटती सितंबर की हवा। कुछ भींनी, कुछ नमकुछ शीतल, कुछ गरमकुछ तेज, कुछ मध्यम
स्विमिंग पूल
आज मैं निÏश्चत थी एकदम। उसे मैंने पूल से बाहर निकलते देखा तो एकदम चैन आ गया कि अब आराम से जब भी चाहेगा तो निकल जाऊंगी। वर्ना यही सिर पर भूत की तरह सवार हो जाता कि कहीं ऐसा न हो कि जब मैं बाहर निकलूं तभी वह निकले। और फिर ठीक से नहाना भी न हो स
QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 19.09.26 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^