ISSN 2249-5967

 

सुषमा शर्मा

सम्पादक
स्वदेश राना
स्वदेश राना

भारत में जन्म। चंडीगढ़ विश्वविद्यालय से राजनीति शास्त्र में स्वर्ण पदक के साथ एम.ए.। अंतर्राष्ट्रीय संबंधों पर जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी से पी.एच.डी.। कोलंबिया यूनिवर्सिटी में Rockefeller Award Post-Doctoral Fellow रही हैं। अकादमिक एवं व्यावसायिक उपलब्धियों के लिये अनेकों सम्मान प्राप्त। "बदली का गिला" ग़ज़ल को अभिव्यक्ति द्वारा "गोल्डन स्टार" सम्मान। अल्बेनिया के राष्ट्रपति द्वारा निरस्त्रीकरण के लिये "नेशनल सिम्बोल" प्रदान किया गया। कोलम्बिया एवं जॉन हापकिंग्स विश्वविद्यालयों में शौकिया तौर पर हिन्दी-उर्दू का अध्यापन। लघु उपन्यास "कोठेबाली" एवं कहानी "होली" वेब-पत्रिका "अभिव्यक्ति" पर प्रकाशित।


सूखे पत्ते
मुझे कुछ सूखे पत्तों परटहलनें की तमन्ना हैअकेले दूर तक चुपचापख़ुद अपने ख़्यालों केसिमटते फैलते सायों केझुरमुट से जुदा होकरनये इक मील पत्थर सेगुज़रने की तमन्ना है। ज़मीं से आस्मां के बीचबस थ
QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 15.00 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^