ISSN 2249-5967

 

सुषमा शर्मा

सम्पादक
सन्त ट्रम्प परिवर्तन
01-Jan-2019 02:05 PM 826     

सन्त ट्रम्प

सौ सौ चूहे खाय कै बिल्ली बन गई सन्त
झूठ हजारों बोलि कै ट्रम्प बना प्रेसीडेन्ट
शपथ ग्रहण में सब कहैं सदा बोलिहैं साँच
ट्रम्प मनहिं मन बोलिया बोलिहउँ सदा असाँच
दारू पी कै सरल जन झूठ बोलिहैं भाय
दारु न पीवै ट्रम्प खल सदा झूठ बतियाय
दुनिया में होइ गये हैं बहुत महात्मा जोय
ट्रम्प कहे ओहिके सरिस पैदा हुआ न कोय
ईसा, बुद्ध, मुहम्मद करौ न इनकी बात
ट्रम्प नाम निशि दिन जपे मिटैं सकल संताप
मिटैं सकल संताप मिलानिया से मिलवावै
मोक्ष पाइकै तुरत अमित जीवन फल पावै
भगत जनन सब धरम के भजन करैं भगवान
भजन अपन को करत है मानहि खुद भगवान
सम्भव है मिलि गयो है ट्रम्पहि आतम ज्ञान
ताही तै वहि के चरण परैं न भूमि सुजान।


परिवर्तन

कितनी स्मृतियाँ हैं
कितनी कहानियाँ हैं
कुछ कही जायेंगी
कुछ अनकही रह जायेंगी
जो कही जायेंगी
कहने में बदल जायेंगी
कुछ सुनने में बदल जायेंगी
कुछ लिखने में बदल जायेंगी

जो आज सत्य है
वह कल असत्य में बदल सकता है
आज जो सही है
कल वह ग़लत हो सकता है
आज जो पुण्य है
कल वह पाप बन सकता है
कल का भिखारी
आज राजा बन सकता है

आज जो नीचे है
कल ऊपर जा सकता है
आज जो ऊपर है
कल नीचे गिर सकता है
बढ़ती हुई उम्र ने सिर्फ़
यह ही सिखाया है
यादों ने भी यही
सच बतलाया है

हर लपट बुझेगी
हर पका फल झड़ेगा
जो जन्मा है वह मरेगा
जो जीता है वह हारेगा
कुछ भी स्थिर नहीं रहेगा
सब बदलता रहेगा
शाश्वत को खोजना व्यर्थ है
परिवर्तन ही सत्य है।

QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 15.00 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^