btn_subscribeCC_LG.gif
सलिल सरोज
सलिल सरोज

3 मार्च 1987 को बेगूसराय बिहार में जन्म। अंग्रेजी, रूसी में स्नातक तथा तुर्की भाषा में एक साल का कोर्स। समाज शास्त्र में परास्नातक एवं नेट की परीक्षा उत्तीर्ण। जेएनयू में विदेशी भाषा में स्नातक परीक्षा के लिए "Splendid World Informatica" किताब का सह लेखन। कविताएँ विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित। विभिन्न सामाजिक संगठनों से जुड़े हैं। सम्प्रति - कार्यकारी अधिकारी, लोकसभा सचिवालय।


एक दो : सलिल सरोज
एक अच्छा था मेरे दर से मुकर जाना तेराआसमाँ की गोद से उतर जाना तेरा तू लायक ही नहीं था मेरी जिस्मों-जाँ केवाजिब ही हुआ यूँ बिखर जाना तेरा मेरी हँसी की कीमत तुमने कम लगाईयूँ ही नहीं भा गया रोकर जाना तेरा
QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 19.09.26 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^