ISSN 2249-5967

 

सुषमा शर्मा

सम्पादक
कृति-अंश Next
गोदान
होरीराम ने दोनों बैलों को सानी-पानी देकर अपनी स्त्री धनिया से कहा- "गोबर को ऊख गोड़ने भेजदेना। मैं न जाने कब लौटूं। जरा मेरी लाठी दे दो।" धनिया के हाथ गोबर से भरे थे। उपले थापकर आयी थी। बोली- "अरे, कुछ-रस पानी तो कर लो। जल्दी क्या है?"ह...
खंजन नयन
वृन्दावन से लगभग दो कोस पहले ही पानीगांव के पास वाले किनारे पर खड़े चार-छह लोगों ने सुरीर से आती हुई नाव को हाथ हिला-हिलाकर अपने पास बुला लिया : "मथुरा मती जइयों। आज खून की मल्हारें गाई जा रही हैं वांपे..."सुनकर नाव पर बैठी सवारियां सन्न रह ग...
मैला आँचल
गाँव में यह खबर बिजली की तरह फैल गई - मलेटरी ने बहरा चेथरू को गिरफ्तार कर लिया है और लोबिनलाल के कुँए से बाल्टी खोलकर ले गए हैं। यद्यपि 1942 के जन-आन्दोलन के समय इस गाँव में न तो फौजियों का कोई उत्पात हुआ था और न आन्दोलन के समय इस गाँव तक पहुँच पा...
लाल टीन की छत
सब तैयार था। बिस्तर, पोटलियाँ-एक सूटकेस। बाहर एक कुली खड़ा था, टट्टू की रास थामे-अनमने भाव से उस मकान को देख रहा था, जहाँ चार प्राणी गलियारे में खड़े थे- एक आदमी, एक औरत, एक बहुत छोटी औरत, जो बौनी-सी लगती थी- और उनसे जरा दूर एक गंजे सिरवाला लड़का, जो...
QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 15.00 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^