ISSN 2249-5967

 

सुषमा शर्मा

सम्पादक
प्रो. कृष्ण किशोर गोस्वामी
प्रो. कृष्ण किशोर गोस्वामी

जुलाई, 1942 को जन्म। एम.ए., एम.लिट् (भाषाविज्ञान), पी-एच.डी. (शैलीविज्ञान)। प्रकाशित पुस्तकें : शैक्षिक व्याकरण और व्यावहारिक हिन्दी, शैलीविज्ञान और रामचन्द्र शुक्ल की भाषा, प्रयोजनमूलक हिन्दी और कार्यालयी हिन्दी, भाषा के विविध रूप और अनुवाद, आधुनिक हिन्दी : विविध आयाम, Code Switching in Lahanda Speech Community : A Sociolinguistic Survey, अनुवाद विज्ञान की भूमिका, हिन्दी का सामाजिक और भाषिक परिदृश्य आदि बारह पुस्तकें। शैक्षिक विदेश यात्रा : अमेरिका, स्वीडन, डेनमार्क, मॉरिशस, दक्षिण अफ्रीका, यूएई, नेपाल। शैक्षिक सेवा : प्रोफ़ेसर, विभागाध्यक्ष और क्षेत्रीय निदेशक, केन्द्रीय हिन्दी संस्थान; प्रोफेसर और विभागाध्यक्ष, उच्च शिक्षा और शोध संस्थान तथा प्रोफ़ेसर एवं सलाहकार, प्रगत संगणक विकास केन्द्र (C-DAC)।


हिन्दी और हिन्दुस्तानी का प्रश्न फिर क्यों
विगत दिनों सिनेमा पटकथा लेखक और उर्दू के कवि श्री जावेद अख्तर ने हिंदुस्तानी का सवाल उठा कर गढ़े मुर्दे उखाड़ने का प्रयास किया है। शायद जावेद जी भूल गए हैं या भूलने का बहाना कर रहे हैं या सुर्खियों में आने के लिए ऐसे ब्यान दे रहे हैं। उन्हें अगर ध्य
शिक्षा के माध्यम की भाषा
भा षा शिक्षण का क्षेत्र अनुप्रायोगिक है। इसमें विभिन्न विषयों के शिक्षण के लिए जिस भाषा का प्रयोग होता है, वह शिक्षा का माध्यम कहलाती है। शिक्षा का माध्यम अपनी मातृभाषा भी हो सकती है और दूसरी भाषा भी। इसलिए भाषा किसी-न-किसी उद्देश्य या प्रयोजन के
QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 12.00 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^