btn_subscribeCC_LG.gif
डॉ. वीरेंद्र परमार
डॉ. वीरेंद्र परमार

10 मार्च 1962 को जयमल डुमरी जिला मुजफ्फरपुर बिहार में जन्म। हिन्दी में एमए, बीएड, नेट तथा पीएचडी की उपाधियाँ प्राप्त कीं। पूर्वी भारत की आदिवासी परम्परा पर गहन शोध कार्य। राजभाषा विमर्श, आदिवासी और उनका लोक साहित्य, अरुणाचल का लोक जीवन जैसे विभिन्न विषयों पर आधा दर्जन से अधिक पुस्तकें प्रकाशित। विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में रचनाएँ और आलेख प्रकाशित।


हाजोंग जनजाति का सांस्कृतिक वैशिष्ट्य
जनसंख्या की दृष्टि से हाजोंग एक छोटा समुदाय है। इनकी अधिकांश आबादी मेघालय में निवास करती है। इसके अतिरिक्त असम के कार्बी ओंगलोंग तथा नार्थ कछार हिल्स जिलों में भी हाजोंग जनजाति के लोग रहते हैं। मेघालय की सीमा पर स्थित असम के लखीमपुर व ग्वालपारा जि
QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 19.09.26 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^