ISSN 2249-5967

 

सुषमा शर्मा

सम्पादक
बी.मरिया कुमार
बी.मरिया कुमार
हुबली, धारवाड़ में जन्म। बचपन मैसूर में बीता। गुंटूर, विजयवाड़ा और हैदराबाद में अध्ययन। रसायन में स्नातक एवं अंतरराष्ट्रीय व्यापार में स्नातकोत्तर तथा पी.एच.डी. की उपाधि। औद्योगिक संबंध और कार्मिक प्रबंधन में पी.जी. डिप्लोमा। 1985 में भारतीय पुलिस सेवा में शामिल। तेलुगु के प्रख्यात रचनाकार। विविध विषयों पर विस्तृत आलेख प्रकाशित। कविता एवं समसामयिक विज्ञान विषयों की डेढ़ दर्जन से अधिक पुस्तकें प्रकाशित। तेलुगु एवं अंग्रेजी कविताओं का रशियन, सिंधी एवं हिंदी में अनुवाद प्रकाशित। भारत भाषा भूषण, विद्यावाचस्पति, आचार्य सम्मान, अमेरिकी प्रशासन के ईओडी पदक तथा भारतीय पुलिस पदक से सम्मानित। ब्रिाटिश पुलिस इंस्टीट¬ूशन, यू.के. तथा आतंकवाद विरोधी कार्यक्रम के तहत संयुक्त राज्य अमेरिका का दौरा। सम्प्रति - डायरेक्टर जनरल, पुलिस रिफार्म।

मानस प्रबंधन अंग्रेजी से अनुवाद राजेश करमहे भाग : तीन
सामान्य बोध में असामान्य क्या है?1776 के आरम्भिक समय में, जब थॉमस पेन लोगों को प्रेरित कर रहे थे; अमेरिका की ब्रिाटिशा शाासन से स्वतंत्रता प्रायः सन्निकट थी। यह जुलाई में घटित भी हुआ। पेन के प्रेरित करने वाले चिट्ठे का शाीर्षक था - सामान्य ब
मानस प्रबंधन अंग्रेजी से अनुवाद राजेश करमहे भाग : दो
असली आधुनिकता क्या है?मात्र पाँच सौ वर्ष पहले कोलंबस के द्वारा अमेरिका की खोज की गई थी। ज़ल्दी ही यह समृद्ध समाज बन गया। कठिन और चुस्त-दुरुस्त कार्यों और दृष्टिकोण की वजह से इसका सर्वांगीण विकास हुआ। दूसरी ओर, कुछ लम्बे इतिहास वाले समाज अभी भ
मानस प्रबंधन
इस दुनियाँ में सभी मनुष्य एक समान नहीं हैं। हर कोई दूसरे से व्यवहार, स्वभाव, पसंद, महत्वाकांक्षा इत्यादि में भिन्न है। यह सब वैयक्तिक अंतर कहलाता है। लेकिन हमें विभिन्न मानसिकता वाले  लोगों के बीच आराम से रहना होता है। यही इस जीवन की सुंदरता
जीवनशैली प्रबंधन भाग : दा
क्रोध पर नियंत्रण कैसे करें?अंग्रेजी का शब्द 'ठ्ठदढ़ड्ढद्ध' (क्रोध)  इस भाषा के एक अन्य शब्द 'ड्डठ्ठदढ़ड्ढद्ध' (खतरा) से मात्र एक अक्षर 'ड्ड' हटा देने से बन जाता है। सचमुच 'ठ्ठदढ़ड्ढद्ध' या क्रोध अंगार जैसा खतरनाक होता है। यह स्वयं का दुश्

जीवनशैली प्रबंधन
सही जीवन शैली का तात्पर्य सुरक्षित, सुचारू, सहूलियतदायी, सरल, स्वस्थ और सुखी जीवन जीने के तरीके से है। बदलते सामाजिक - आर्थिक माहौल के कारण, कुछ लोग ऐसी आदतों को अपना लेते हैं जिससे उनका जीवन बर्बादी की ओर अग्रसर हो जाता है। बाद में इस तरह के गलत
QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 19.09.26 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^