ISSN 2249-5967

 

सुषमा शर्मा

सम्पादक
अच्छा करने की धुन
01-May-2016 12:00 AM 4148     

शिकागो में अप्रवासी भारतीयों की संख्या बहुत है पर उसमें से कुछेक लोग ही हैं जो अपनी कम्युनिटी के लिए कुछ नया करने की इच्छा रखते हैं। ऐसे ही लोगों में एक नाम है प्रोमिला कुमार जी का। हाल ही में उनसे बात करने का मौका मिला। पता लगा कि प्रोमिला जी न सिर्फ अपनी कम्युनिटी के लिए कुछ नया करने का सोचती हैं, एक कदम आगे बढ़ाते हुए, इसको समय-समय पर साकार भी करती हैं। पे¶ो से तकनीकि क्षेत्र में कार्यरत प्रोमिला जी को बहुत ख़ु¶ाी मिलती है जब वह रचनात्मक कार्य करती हैं।
¶िाकागो में "रेडियो पानीपुरी' प्रोमिल जी ने कुछ सालों पहले ही ¶ाुरू किया, पर इसकी उपलब्धियों से बहुत ही जल्द कम्युनिटी ही नहीं इसके बाहर भी बहुत बहुतेरे लोगों में यह लोकप्रिय हो चुका है।
प्रोमिला जी बताती हैं कि "रेडियो पानीपुरी' का जन्म कम्युनिटी की रचनात्मकता और मनोरंजन के लिए एक मंच प्रदान करने के उद्दे¶य के साथ हुआ। यह चैनल वि·ा संगीत, बॉलीवुड, मनोरंजन, स्वास्थ्य, कॉउंसलिंग आदि का प्रसारण करता है। इसमें बच्चों, युवाओं तथा उम्रदराज यानी सभी उम्र के श्रोताओं के लिए कार्यक्रम तैयार किये जाते हैं।
इसमें लोकप्रिय हस्तियों के साक्षात्कार और दर्जनों घटनाओं की जानकारी, आने वाले इवेंट का विवरण, ¶ाहर की गतिविधियों आदि के विवरण रहते हैं,  जो लोगो के लिए महत्वपूर्ण होते हैं जिनका लाभ समुदाय के लोग उठाते हैं। "रेडियो पानीपुरी' में दस से अधिक रेडियो जॉकी हैं जो चौबीसों घंटे, सातों दिन हिंदी और अंग्रेजी में कार्यक्रम प्रसारित करते हैं।
इस रेडियो चैनल की एक प्रदर्¶ान ¶ााखा है- एकजुट थियेटर। यह थिएटर चालीस से अधिक महत्वाकांक्षी प्रतिभा¶ााली लोगों की रचनात्मक कला को मंच प्रदान करता है। यहाँ गुजर साल 2015 में चार बहुत ही सफलता प्राप्त कर चुके कार्यक्रम "प्यार का पंचनामा', "रंगमंच', "एक ¶ााम' तथा "योनि की बात' प्रस्तुत हुए हैं।
जिसमें से "योनि की बात' को इतनी अधिक सफलता मिली कि इसे संयुक्त राज्य अमेरिका के विभिन्न हिस्सों में प्रस्तुत करने की मांग के फलस्वरूप इसका प्रदर्¶ान भी उन हिस्सों में किया गया। इसमें 15 से अधिक प्रतिभा¶ााली महिलाओं के द्वारा बहुत ही सुंदर तरीके से, खास कर के दक्षिण ए¶िायाई महिलाओं पर होने वाली घरेलू हिंसा और उस पर मदद का प्रस्तुतीकरण किया गया।
एकजुट थियेटर 15 मई को ¶िाकागो में एक नया प्रस्तुतिकरण करने जा रहा है, नाम है - अगाथा क्रिस्टी की कहानी। अन्य प्रस्तुतियों की तरह ही उम्मीद है कि यह भी बहुत सफल होगा।
प्रोमिलजी ने बताया की उनकी ये एकजुट ¶ााखा "अपना घर', "रो¶ानी' और "प्रथम' जैसे स्वयंसेवी संगठनों को अपना समर्थन देता है। इतना ही नहीं प्रोमिला जी ने हाल ही में एक नए और अलग कार्य की ¶ाुरुआत की जिसको नाम दिया- संजीवनीफॉरयू। यह स्वयंसेवकों और पे¶ोवरों का एक गैर लाभकारी संगठन है। जो लोगों को कठिन स्थिति से निपटने के लिए मार्गदर्¶ान प्रदान करता है और उन लोगों को जो किसी दुव्र्यवहार या किसी मानसिक तनाव का ¶िाकार हुए हैं, के लिए भी काम करता है।
इसके साथ ही इस संगठन का उद्दे¶य जीवन-यात्रा के दौरान महिलाओं और पुरुष को स¶ाक्त बनाना भी रहा है। एक सकारात्मक प्रभाव बनता है जब समूह विविधता और परामर्¶ा, स्वास्थ्य संबंधी परामर्¶ा, मानसिक परामर्¶ा के द्वारा मार्गदर्¶ान देता है। यह सभी गतिविधियाँ और सेवायें संजीवनी बिना किसी ¶ाुल्क के प्रदान करता है। इसके लिए काम करने वाले सभी स्वयंसेवी अपने-अपने क्षेत्र में वि¶ोषज्ञ होते हैं, जिनका एक ही उद्दे¶य है अपने लोगों के लिए कुछ अच्छा करना। प्रोमिला जी की टीम भी उन्हीं की तरह परिश्रमी और कुछ अच्छा करने में यकीन करती है।

QUICKENQUIRY
Related & Similar Links
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - Garbhanal - Version 15.00 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^