ISSN 2249-5967

 

सुषमा शर्मा

सम्पादक

Oct

Sep

Aug

Jul

Jun

May

Apr

Mar

Feb

Jan

आवरण (67)

आजादी क्यों?
आजादी क्यों?

अजादी क्यों? सवाल बड़ा अजीब लगेगा क्योंकि प्रश्न तो यह होना चाहिये कि आजादी क्यों नहीं? पर अंग्रेज .. >>

हरिहर झा, ऑस्ट्रेलिया 8/1/2016 12:00:00 AM 100
आज़ादी के विरोधाभाष
आज़ादी के विरोधाभाष

आज़ादी एक बहुआयामी शब्द है। मूलतः यह राजनैतिक, सामाजिक, आर्थिक, वैचारिक, धार्मिक हो सकती है। किसी .. >>

डॉ. योगिता मोदी , America 8/1/2016 12:00:00 AM 100
स्वतंत्रता और अनुशासन
स्वतंत्रता और अनुशासन

संसार के किसी विकसित देश से तुलना की जाये तो एक आम भारतीय कहीं अधिक आज़ाद है। चलती बसों में चढ़ने-उ .. >>

अनुराग शर्मा, America 8/1/2016 12:00:00 AM 100

विशेष (16)

किंवदन्ती बन गई किताब
किंवदन्ती बन गई किताब

कीसी भी हिंदी लेखक की पुस्तक के यदि तीन संस्करण यानि 1500 किताबें प्रका¶िात हो जाए तो उसका म .. >>

नीलम कुलश्रेष्ठ, India 5/1/2016 12:00:00 AM 1001
भारत-चीन व्यापार की सुदृढ़ होती डोर
भारत-चीन व्यापार की सुदृढ़ होती डोर

वर्तमान में चीन भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक मित्र है और भारत चीन का दसवां सबसे बड़ा व्यापारिक मित्र .. >>

डॉ. विवेक मणि त्रिपाठी , India 1/1/2016 12:00:00 AM 0
उत्तर प्रदेश प्रवासी भारतीय दिवस यादगार होगा - अखिलेश यादव
उत्तर प्रदेश प्रवासी भारतीय दिवस यादगार होगा - अखिलेश यादव

प्रश्न : आगरा में 4 से 6 जनवरी 2016 को पहला "उत्तर प्रदेश प्रवासी भारतीय दिवस' मनाया जा रहा है। इ .. >>

सुषमा शर्मा, India 1/1/2016 12:00:00 AM 0

कविता (16)

चलना है जंतर मंतर
चलना है जंतर मंतर

पहिचान ये हमारी
फू-मंतर कर दो अन्दर
देख लें क्या हो रहा है .. >>

अनन्तगोपाल रिसाल, INDIA 8/1/2016 12:00:00 AM 100
ईश आराधना
ईश आराधना

हवा बसंती
हलके से छुए मुझे---
सहलाए तन को,
और &ndash .. >>

विनीता खंडेलवाल, INDIA 8/1/2016 12:00:00 AM 100
शूल
शूल

मैंने फूलों को भी
काँटों से प्यार करते देखा है
चुपचाप बातें .. >>

डॉ. ममता जैन, INDIA 8/1/2016 12:00:00 AM 100

विमर्श (10)

चित्रकूट पर्वत श्रृंखला
चित्रकूट पर्वत श्रृंखला

जैसा कि पहले अन्य लेखों में भी देखा जा चुका है, वाल्मीकि अपने कवित्त में प्राकृतिक सौन्दर्य का वर .. >>

डॉ. विजय मिश्र, INDIA 8/1/2016 12:00:00 AM 100
धर्म कर्म कछु नहीं उहंवां
धर्म कर्म कछु नहीं उहंवां

रामानन्द के ¶िाष्य, संवादी कबीर ने स्वयं को न कभी धर्मगुरु कहा, न अवतार। वे स्वयं को न पैगंब .. >>

पुरुषोत्तम अग्रवाल, 6/1/2016 12:00:00 AM 1001
ज्यों की त्यों धर दीनी चदरिया
ज्यों की त्यों धर दीनी चदरिया

1
बहुत बरस नहीं हुए जब कबीर-गायन सुनते हुये मेरी मुलाकात एक बूढ़े ग्रामीण से हुई। उन्होंने पह .. >>

उदयन वाजपेयी, INDIA 6/1/2016 12:00:00 AM 1001

रम्य रचना (10)

आज़ाद हूँ दुनिया के चमन म
आज़ाद हूँ दुनिया के चमन म

आह! यह बेरोकटोक जीने का अहसास मन को मुदित कर देता है। यूँ भी क़ैद में कौन रहना चाहता है हुज़ूर? लोग .. >>

सुधा दीक्षित, INDIA 8/1/2016 12:00:00 AM 100
हरियाला सावन ढोल बजाता आया
हरियाला सावन ढोल बजाता आया

इस साल की भयानक गर्मी के बाद -- "सावन आया – धिन तक तक मन के मोर नचाता आया।' वर्षा और मोर का .. >>

सुधा दीक्षित, INDIA 7/1/2016 12:00:00 AM 1001
कहत कबीर सुनो भई साधो
कहत कबीर सुनो भई साधो

कबीरदास बड़े ही विलक्षण व्यक्ति थे। एकदम बिंदास, बिलकुल हमारी तरह। उन्हीं की तरह हमारी भी ना किसी .. >>

सुधा दीक्षित, INDIA 6/1/2016 12:00:00 AM 1001

शब्द चित्र (8)

मुंबई की बरसात
मुंबई की बरसात

इस साल जून के महीने में बरसात का कहीं नामोनिशाां नहीं दिखा। गरमी और पसीने से त्राहिमाम् करते लोगो .. >>

अनुराधा महेंद्र, 7/1/2016 12:00:00 AM 1001
बारिश में मुंबई
बारिश में मुंबई

समुंदर की लहरें उफान पर हैं। किनारे से टकराकर, किनारे को भिगोकर, कोलतार की स्याह सड़कों पर उछलकर फ .. >>

डॉ. सुलभा कोरे, 7/1/2016 12:00:00 AM 1001
हिमाचल में बरसात का रोमांच
हिमाचल में बरसात का रोमांच

देश के मैदानी इलाकों में भले ही बरसात का मौसम आफत लेकर आता हो लेकिन ऊँचे पहाड़ों पर यही बरसात कुदर .. >>

अनन्त आलोक, 7/1/2016 12:00:00 AM 1001

अनुवाद (8)

मानस प्रबंधन अंग्रेजी से अनुवाद राजेश करमहे भाग : तीन
मानस प्रबंधन अंग्रेजी से अनुवाद राजेश करमहे भाग : तीन

सामान्य बोध में असामान्य क्या है?
1776 के आरम्भिक समय में, जब थॉमस पेन लोगों को प्रेरित कर र .. >>

बी.मरिया कुमार, 7/1/2016 12:00:00 AM 1001
मानस प्रबंधन अंग्रेजी से अनुवाद राजेश करमहे भाग : दो
मानस प्रबंधन अंग्रेजी से अनुवाद राजेश करमहे भाग : दो

असली आधुनिकता क्या है?
मात्र पाँच सौ वर्ष पहले कोलंबस के द्वारा अमेरिका की खोज की गई थी। ज़ल् .. >>

बी.मरिया कुमार, 6/1/2016 12:00:00 AM 1001
मानस प्रबंधन
मानस प्रबंधन

इस दुनियाँ में सभी मनुष्य एक समान नहीं हैं। हर कोई दूसरे से व्यवहार, स्वभाव, पसंद, महत्वाकांक्षा .. >>

बी.मरिया कुमार, 5/1/2016 12:00:00 AM 1001

वर्षा स्मृति (7)

वर्षा वर्णन
वर्षा वर्णन

गोस्वामी तुलसीदास
प्रयाग के पास बाँदा जिले में राजापुर नामक गाँव में संवत् 1554 को जन्म। का& .. >>

सुषमा शर्मा, India 7/1/2016 12:00:00 AM 1001
काले बादल
काले बादल

सुमित्रानंदन पंत
बीसवीं सदी का पूर्वाद्र्ध छायावादी कवियों का उत्थान काल था। उसी समय अल्मोड़ा .. >>

सुषमा शर्मा, India 7/1/2016 12:00:00 AM 1001
बादल राग
बादल राग

सूर्यकांत त्रिपाठी "निराला'
वसंत पंचमी, 1896, मेदिनीपुर, प¶िचम बंगाल में जन्म। मुख्य कृ .. >>

सुषमा शर्मा, India 7/1/2016 12:00:00 AM 1001

स्वराज-स्मृति (7)

स्वाधीनता
स्वाधीनता

जिस प्रकार भी हो, हमें संघ को दृढ़प्रतिष्ठ और उन्नत बनाना होगा और इसमें हमें सफलता मिलेगी- अवशय मि .. >>

स्वामी विवेकानन्द, India 8/1/2016 12:00:00 AM 0
स्वराज्य
स्वराज्य

मेरे... हमारे... सपनों के स्वराज्य में जाति (रेस) या धर्म के भेदों का
कोई स्थान नहीं हो सकत .. >>

मोहनदास करमचन्द गांधी, India 8/1/2016 12:00:00 AM 100
नियति से वादा
नियति से वादा

कई सालों पहले, हमने नियति के साथ एक वादा (Tryst with Destiny) किया था, और अब समय आ गया है कि हम अ .. >>

जवाहरलाल नेहरू , India 8/1/2016 12:00:00 AM 100

व्याख्या (7)

कस्मै देवाय हविषा विधेम?
कस्मै देवाय हविषा विधेम?

भारतीय मानस की अनवरत् जिज्ञासा की कथा की यह कड़ी आधुनिक भारत में वैज्ञानिक विकास लिखने के क्रम में .. >>

राजेश करमहे, India 7/1/2016 12:00:00 AM 1001
कस्मै देवाय हविषा विधेम?
कस्मै देवाय हविषा विधेम?

गर्भनाल पत्रिका, मई 2016 अंक में प्राचीन भारत में ज्ञान-विज्ञान की चर्चा करते हुए वैदिक युग की वै .. >>

राजेश करमहे, India 6/1/2016 12:00:00 AM 1001

शिकागो की डायरी (6)

साल की छुट्टियां!
साल की छुट्टियां!

पराये देश में अगर कोई देश का मिल जाए तो ख़ुशी होती है, लेकिन अगर कोई अपना ही सगा आपके शहर के नजदीक .. >>

अपर्णा राय, USA 8/1/2016 12:00:00 AM 100
गुम होती पहचान
गुम होती पहचान

शिष्टाचार, आदर, संस्कार भारतीय संस्कृति की सुंदर वि¶ोषताएँ कही जाती हैैं, लेकिन आधुनिक समय म .. >>

अपर्णा राय, USA 6/1/2016 12:00:00 AM 1001
अच्छा करने की धुन
अच्छा करने की धुन

शिकागो में अप्रवासी भारतीयों की संख्या बहुत है पर उसमें से कुछेक लोग ही हैं जो अपनी कम्युनिटी के .. >>

अपर्णा राय, USA 5/1/2016 12:00:00 AM 1001

सम्पादकीय (6)

आज़ादी की कीमत
आज़ादी की कीमत

देश केवल लोगों के रहने की जगह का नाम नहीं है, वह तो सहकार भावना से जीवन को आपस में सँवारने की जगह .. >>

सुषमा शर्मा, India 8/1/2016 12:00:00 AM 0
वर्षा-मंगल
वर्षा-मंगल

ऋग्वेद के पाँचवे मंडल के 83वें सूक्त की इस प्रथम ऋचा में उस वैदिक महा¶ाक्ति¶ााली, दानवी .. >>

राजेश करमहे, India 7/1/2016 12:00:00 AM 1001
चल हंसा वा देस
चल हंसा वा देस

अपना देश, खासकर मध्यकालीन भारत फ़क़ीरों का देश रहा है। अरबी का एक मूल है -फ़-क़-र, जिसका अर्थ है - नि .. >>

ADMIN, INDIA 6/1/2016 12:00:00 AM 1001

शायरी की बात (5)

बंद अंधेरों के लिए ताज़ा हवा लिखते हैं हम
बंद अंधेरों के लिए ताज़ा हवा लिखते हैं हम

ये चाँद ख़ुद भी तो सूरज के दम से काइम है
ये ख़ुद के बल पे कभी चांद .. >>

नीरज गोस्वामी , 8/1/2016 12:00:00 AM 100
ख़ुश्बू की तरह से मैं फिजा में बिखर गया
ख़ुश्बू की तरह से मैं फिजा में बिखर गया

रोज़ बढ़ती जा रही इन खाइयों का क्या करें
भीड़ में उगती हुई तन्हाइयों का क्या करें
हुक्मरान .. >>

नीरज गोस्वामी , 5/1/2016 12:00:00 AM 1001
अभी तो अपना मुझे घर तलाश करना है
अभी तो अपना मुझे घर तलाश करना है

शायर जनाब कुँवर "कुसुमेश' की लाजवाब ग़ज़लों की किताब "कुछ न हासिल हुआ' पढ़कर ऐसा महसूस होता है, जैसे .. >>

नीरज गोस्वामी , 3/1/2016 12:00:00 AM 0

मन की बात (4)

हिंदी के सूत्र और संदर्भ
हिंदी के सूत्र और संदर्भ

हिंदी के संदर्भ में गाँधी जी ने 1918 में इंदौर में हुए हिंदी साहित्य सम्मेलन के दौरान कहा था कि ह .. >>

इला कुमार, India 5/1/2016 12:00:00 AM 1001
भारतीय लोक कलाएँ रुचिकर हैं
भारतीय लोक कलाएँ रुचिकर हैं

आप सभी हिंदी प्रेमियों से अपने मन की बात करूं इससे पहले अपना परिचय देना चाहती हूँ। हालांकि नहीं ज .. >>

मिलेना वेस्लोव्सकाया, Masco 5/1/2016 12:00:00 AM 1001
हिंदी-रूसी अनुवादक बनने का स्वप्न
हिंदी-रूसी अनुवादक बनने का स्वप्न

मेंरा नाम अन्या शप्रान है। मेरी उम्र बीस साल की है। मैं विद्यार्थी हूँ और वि?ाविद्यालय से हिंदी भ .. >>

अन्या शप्रान, 3/1/2016 12:00:00 AM 0

जन्नत की हकीकत (3)

स्वच्छंदता के उपफल
स्वच्छंदता के उपफल

आदमी समस्त सृष्टि पर तो नियंत्रण नहीं कर सकता लेकिन अपने समाज, परिवार और अपने संपर्क में आने वाले .. >>

रमेश जोशी, USA 8/1/2016 12:00:00 AM 100
नेक्स्ट टू गॉडलीनेस
नेक्स्ट टू गॉडलीनेस

सफाई के बारे में अंग्रेजी कहावत है- क्लीनली नेस इज नेक्स्ट टू गॉडलीनेस। ई?ार के बाद सफाई ही सबसे .. >>

रमेश जोशी, USA 3/1/2016 12:00:00 AM 0
बंदूक की संस्कृति
बंदूक की संस्कृति

अमरीका के राष्ट्रपति ओबामा अमरीका में जब-तब अकारण होने वाले हादसों के सन्दर्भ में बंदूक-संस्कृति .. >>

रमेश जोशी, USA 2/1/2016 12:00:00 AM 0

नजरिया (3)

देशाटन का आनंद है अलग
देशाटन का आनंद है अलग

भारत की संस्कृति एक आत्मसंबद्ध निरंतर संस्कृति है इसलिए यहां का हर क्षेत्र सांस्कृतिक रूप से हर द .. >>

उदयन वाजपेयी, INDIA 8/1/2016 12:00:00 AM 100
झूठ का समाजशास्त्र
झूठ का समाजशास्त्र

कवि ¶ाुंतारी तानी कावा ने अपनी एक कविता में लिखा है : "कुछ बातें हम झूठ बोलकर ही कह सकते हैं .. >>

उदयन वाजपेयी, INDIA 5/1/2016 12:00:00 AM 1001
बिना सम्मान समता का मूल्य नहीं
बिना सम्मान समता का मूल्य नहीं

हमारा यह समय अन्याय चीजों के लिए जाना जायेगा। मसलन बाजार के घर के कोनों तक में घुस आने के लिए, बु .. >>

उदयन वाजपेयी, INDIA 3/1/2016 12:00:00 AM 0

रपट (3)

बेलारूस में हिंदी समर कैंप
बेलारूस में हिंदी समर कैंप

छह से चौबीस जून 2016 तक "ज़ारनीत्सा" नामक समर कैंप सम्पन्न हुआ। बेलारूस के मिन्स्क नगर से 46 किलोम .. >>

अलेसिअ माकोव्स्काया , Belarus 8/1/2016 12:00:00 AM 100
अमरीका में हिंदी का दीपक
अमरीका में हिंदी का दीपक

न्यूयॉर्क में अंतर्राष्ट्रीय हिंदी संगोष्ठी का तीन दिवसीय आयोजन 29 अप्रैल से 1 मई 2016 तक सम्पन्न .. >>

डॉ. हाइंस वर्नर वेसलर, 6/1/2016 12:00:00 AM 1001
एडीसन में हिंदी महोत्सव सम्पन्न
एडीसन में हिंदी महोत्सव सम्पन्न

न्यूजर्सी के एडिसन ¶ाहर में 21 व 22 मई को "हिंदी यूएसए' ने अपने पन्द्रहवें हिंदी महोत्सव का .. >>

ADMIN, INDIA 6/1/2016 12:00:00 AM 1001

सिंगापुर की डायरी (3)

सर्वज्ञता की खोज का मिशन
सर्वज्ञता की खोज का मिशन

आज़ादी के सही मायने आखिर हैं क्या? क्या सिर्फ नारे लगाने की छूट या बस अपने मन का करने की छूट को ही .. >>

डॉ. संध्या सिंह, 8/1/2016 12:00:00 AM 100
मज़दूर दिवस बनाम प्रवासी मज़दूर
मज़दूर दिवस बनाम प्रवासी मज़दूर

प्रवासी ¶ाब्द बड़ा मनमोहक है। सुनकर लगता है जैसे एक बड़ा तगमा जुड़ गया हो। सिंगापुर में भी प्रव .. >>

सन्ध्या सिंह, Singapore 5/1/2016 12:00:00 AM 1001
म.प्र. के मुख्यमंत्री की गौरवपूर्ण उपलब्धि
म.प्र. के मुख्यमंत्री की गौरवपूर्ण उपलब्धि

किसी भी भारतीय के लिए यह गर्व की बात होगी कि उसके देश के एक मुख्यमंत्री को अच्छी सरकार, विकास और .. >>

डॉ. संध्या सिंह, 2/1/2016 12:00:00 AM 0

बातचीत (3)

बाबाओं के कुम्भ में एक जिज्ञासु
बाबाओं के कुम्भ में एक जिज्ञासु

सब कुछ अविस्मरणीय... अकल्पनीय... सपना सच होने जैसा। धर्मप्राण जनता-जनार्दन के अंत:करण में हिलोरे .. >>

राजू मिश्र, INDIA 4/1/2016 12:00:00 AM 100
निवेशक मित्र और विकास में सहभागी हैं
निवेशक  मित्र और विकास में सहभागी हैं

प्रश्न - मध्यप्रदेश में प्रवासी भारतीयों की पूंजी निवेश की आपकी महत्वाकांक्षी योजना में सिंगापुर .. >>

सुषमा शर्मा, India 2/1/2016 12:00:00 AM 0
मॉल-संस्कृति को देखने भारत नहीं आऊँगी
मॉल-संस्कृति को देखने  भारत नहीं आऊँगी

डॉ योको तावादा जयपुर साहित्य सम्मेलन में भाग  लेने ले लिए भारत आर्इं। वे उस सम्मलेन में भाग .. >>

डॉ. तोमोको किकुचि, 2/1/2016 12:00:00 AM 0
NEWSFLASH

हिंदी के प्रचार-प्रसार का स्वयंसेवी मिशन। "गर्भनाल" का वितरण निःशुल्क किया जाता है। अनेक मददगारों की तरह आप भी इसे सहयोग करे।

Quick Enquiry
HOME http://www.garbhanal.com/Default.aspx R+M+C+M+C+R+M+C+R+M+M+C+M+M+M+M+M+C+R+M+C+M+C+M+C+
Copyright © 2008 - All Rights Reserved - Garbhanal | Yellow Loop | SysNano Infotech | Structured Data Test